6 टिप्पणियाँ

T-27/10 ऐ दिल हमारे बस इक इल्तिजा हमारी रख-नकुल गौतम

ऐ दिल हमारे बस इक इल्तिजा हमारी रख
ये राज़ राज़ रहे थोड़ी होशियारी रख

इन आसुंओं पे लगा बाँध टूट जाने दे
बहा दे बोझ ऐ दिल! यूँ न ख़ुद को भारी रख

ज़रा तो सब्र से ले काम चाँद आने तक
“छिपाके यार तबस्सुम में बेक़रारी रख”

तिरे लिये ही तो आया हूँ मयकदे में फिर
दिले-मरीज़ मेरी लाज अब की बारी रख

‘नहीं-नहीं’ वो लिखें गर तो हाँ समझ लेना
हिसाब में ये मुहब्बत के जानकारी रख

ये राह आम नहीं है गली मुहब्बत की
ज़रा संभाल के ये उम्र की सवारी रख

कुछ एक पल की मुलाकात में धड़कना क्या?
तबाह दिल मेरे इतनी तो इन्किसारी रख

ये फूल चीड़* के जंगल में अब नहीं मिलते
‘नकुल’ सँभाल के बचपन की याद प्यारी रख

नकुल गौतम 9819057645

*चीड़ – एक जंगली फूल जो लम्बे समय तक मुरझाता नहीं

Advertisements

About Lafz Admin

Lafzgroup.com

6 comments on “T-27/10 ऐ दिल हमारे बस इक इल्तिजा हमारी रख-नकुल गौतम

  1. In aa’nsuo’n pe laga baandh toot jaane de
    Bahaa de bojh ai dil yu’n na khud ko bhaari rakh
    Waah bahut khoob Nakul saahab
    Aap k sher ki taa’eed me’n mere ustaad e mohtaram ja maqta haazir hai.
    Bojh halka ho jo dhul jaaye ghubaare khaatir
    Aur kuchh der kahi’n baith k ZAKHMI ro lo
    mubaarakbaad
    shafique raipuri

  2. कुछ एक पल की मुलाकात में धड़कना क्या?
    तबाह दिल मेरे इतनी तो इन्किसारी रख

    बहुत ख़ूब नकुल साहब.

  3. वाह वाह बहुत सुंदर ग़ज़ल नकुल साहेब मुबारक हो
    चीड़ वाह

  4. Bohot khoob gazal kahi hai! Makte ke liye khaas daad kubool kijiye…

  5. वाह बहुत बढ़िया , मक्ता भी क्या खूब हुआ है

  6. इन आसुंओं पे लगा बाँध टूट जाने दे
    बहा दे बोझ ऐ दिल! यूँ न ख़ुद को भारी रख
    Bahut pyari gazal hui nakul ji
    dili daad qubul kijiye

Your Opinion is counted, please express yourself about this post. If not a registered member, only type your name in the space provided below comment box - do not type ur email id or web address.

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

%d bloggers like this: