12 Comments

T-24/2 तनाबें जब उखड़ गईं तमाम एतबार की-“समर कबीर”

तनाबें जब उखड़ गईं तमाम एतबार की
हमें न अब सुनाइये कहानियाँ बहार की

फ़क़ीर की, न शाह की, न जौहरी-सुनार की
यहाँ पे बात कर रहा हूँ मैं तो सिर्फ़ प्यार की

ज़रा सी देर बाद ये चराग़ बुझ ही जाएगा
हदें तमाम ख़त्म हो रही हैं इन्तिज़ार की

चढ़े दिमाग़ पर तो फिर कभी न वो उतर सके
मुझे तलाश है जनाबे-मन उसी ख़ुमार की

नदी किनारे झाड़ियों में छुप के बैठता है वो
सताए उसको भूक जब तलब लगे शिकार की

सुलूक़ इसके साथ जो भी जी में आए तुम करो
ग़ज़ल तुम्हारे सामने रखी है ख़ाकसार की

ख़ुशी से झूमते हो, झूम लो “समर” ज़रा सुनो
ख़बर तो कोई लाओ मेरे ग़म के रेगज़ार की

“समर कबीर” 09753845522

Advertisements

About Lafz Admin

Lafzgroup.com

12 comments on “T-24/2 तनाबें जब उखड़ गईं तमाम एतबार की-“समर कबीर”

  1. Waaaaaaaah waaaaaaaah Samar Sahab kya kehne, matla to lajawaab hai janaab, ghazal bhi bahot khoob hai

  2. HadeiN tamaam khatm ho rahi heiN.. waaaaah!! kya kehne jabab!!

  3. pyare pyare sher kahe haiN …umda ghazal par mubarakbaad

  4. वाह…हदें तमाम खत्‍म हो रही हैं इंतज़ार की…….शे’र बहुत देर तक साथ रहेगा साहब।
    दाद कबूल फरमाएं।
    सादर
    नवनीत

  5. एक अच्छी ग़ज़ल के लिए बहुत बहुत मुबारकबाद समर साहब……

  6. चढ़े दिमाग़ पर तो फिर कभी न वो उतर सके
    मुझे तलाश है जनाबे-मन उसी ख़ुमार की

    नदी किनारे झाड़ियों में छुप के बैठता है वो
    सताए उसको भूक जब तलब लगे शिकार की

    सुलूक़ इसके साथ जो भी जी में आए तुम करो
    ग़ज़ल तुम्हारे सामने रखी है ख़ाकसार की

    वाह वह क्या बात ह बधाई हो सुंदर ग़जल

  7. बहुत अच्छी ग़ज़ल हुई है भाई दाद कबूलें

  8. बहुत ख़ूबसूरत शेर, भरपूर दाद क़ुबूल फ़रमाइये कबीर साहब

    ज़रा सी देर बाद ये चराग़ बुझ ही जाएगा
    हदें तमाम ख़त्म हो रही हैं इन्तिज़ार की

  9. ज़रा सी देर बाद ये चराग़ बुझ ही जाएगा
    हदें तमाम ख़त्म हो रही हैं इन्तिज़ार की

    kya khoob hai .
    bahut achhii gazal hui hai Samar kabeer sahab
    dher sari daad

  10. भई वाह
    बहुत खूब ग़ज़ल हुई है
    क्या बात है

  11. achhi ghazal…daad

  12. Achhi gazal hui hae Samar kabeer sahab mubarakbaad qubool karein.
    Sadar
    Pooja

Your Opinion is counted, please express yourself about this post. If not a registered member, only type your name in the space provided below comment box - do not type ur email id or web address.

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: