10 टिप्पणियाँ

T-19/10 कह सका हूँ न कहा जायगा ऐसा मुझसे-अभय कुमार अभय

कह सका हूँ न कहा जायगा ऐसा मुझसे
मैं समन्दर हूँ मिले कोई न दरिया मुझसे

तेरी आँखों के तसव्वुर से हूँ मसरूर बहुत
दूर कुछ यूँ भी नहीं साग़रो-सहबा मुझसे

दिल ने सौ बार कहा देख ले इबरत होगी
फिर भी देखा न गया अपना तमाशा मुझसे

अपने ख़्वाबों को भी ताबीर मुझे करना है
जिंदगानी का बहरपल है तक़ाज़ा मुझसे

दूर जा कर भी हो नज़दीके-दिलो-जां कितने
फ़ासला जिस्मों का बेकार बढ़ाया मुझसे

जिस्म से जान खफ़ा, जहन से दिल दूर हुआ
“साहिबो उठ गया क्या मेरा भरोसा मुझसे “

आइना आइना है अक्स वही रूप सिंगार
दूर रह कर भी नहीं दूर वो चेहरा मुझसे

क्या कहूँ चाँद, शफ़क़, फूल, सितारे, शबनम
काश हो जाये बयाँ तेरा सरापा मुझसे

उनकी मासूम अदाओं को ‘अभय’ क्या कहिये
पूछते हैं वो मिरे ग़म का मदावा मुझसे

अभय कुमार अभय 08171611298

Advertisements

About Lafz Admin

Lafzgroup.com

10 comments on “T-19/10 कह सका हूँ न कहा जायगा ऐसा मुझसे-अभय कुमार अभय

  1. Abhay sahab aapka andaaz aur lahza mujhe bahut pasand hai… khoobsurat gazal hui hai…
    झसेअपने ख़्वाबों को भी ताबीर मुझे करना है
    जिंदगानी का बहरपल है तक़ाज़ा मुझसे
    Waah….

    Sadar

  2. दिल ने सौ बार कहा देख ले इबरत होगी
    फिर भी देखा न गया अपना तमाशा मुझसे

    अभय साहब मेरठ के आप तीनों उस्तादों से हमेशा अच्छे कलाम की तवक़्क़ो रहती है सो इस बार भी पूरी हुई. वाह-वाह. दाद क़ुबूल फ़रमाइये

  3. अभय साहब !! गज़ल खूब कही है इन शेरोन पर विशेष दाद !!
    दिल ने सौ बार कहा देख ले इबरत होगी
    फिर भी देखा न गया अपना तमाशा मुझसे
    अपने ख़्वाबों को भी ताबीर मुझे करना है
    जिंदगानी का बहरपल है तक़ाज़ा मुझसे

  4. क्या कहूँ चाँद, शफ़क़, फूल, सितारे, शबनम
    काश हो जाये बयाँ तेरा सरापा मुझसे MAHBOOB KA SARAAPA NAQAABIL-E-BAYAAN HI HOTA HAI ABHAY SAHAB. UMDA SHER, MUBAARAKBAAD QABOOL KARE’N.

  5. bahut pyari ghazal…zabaan ki chaashni ne maza aur baDha diya..laga ki ghazal paDh rahe haiN…waaaahhhh

  6. Poori ki poori Ghazal badi sanjeedgi aur saleeke se kahi gai aur asaani se dil maiN utar gai hai.. Behad mubarakbaad!!!

    # Asif Amaan

  7. बहुत अच्छी ग़ज़ल हुई अभय साहब
    गिरह भी बहुत शानदार लगी
    मुबारकबाद कुबूल करें….

  8. abhay ji………kya rawani hai………har sher eak nageena sa jadra hai……..

Your Opinion is counted, please express yourself about this post. If not a registered member, only type your name in the space provided below comment box - do not type ur email id or web address.

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

%d bloggers like this: